X
    Categories: काव्य-उल्लेख

कब तक हिन्दुस्तानी खून बहायेगा

आंतक की गोली सें

कब तक खून बहेगा,

हर हिन्दुस्तानी कब तक

आंतकी का दर्द सहेगा,

कायरता दिखलाते हो

पीठ पर हमला करके,

हिम्मत नही है तुझमें

सामने आ लड़ने,

बस आका की गोंद में

जाकर छिप जाते हो

अपनी कायरता का

वीरगाथा गाते हो,

हर जवान की शहादत

कभी ना खाली जायेगा

कब तक हिन्दुस्तानी

खून बहायेगा।

*अभिषेक राज शर्मा

This article was last modified on February 16, 2019 2:08 AM

This website uses cookies.