X
    Categories: दिल्ली

निजी स्कूलों के खिलाफ अभिभावकों का उग्र आंदोलन

० फीस वृद्धि के खिलाफ प्रधानमंत्री मोदी के नाम लिखा पत्र
बिलासपुर। निजी स्कूलों के खिलाफ अभिभावकों का आंदोलन और उग्र हो गया है। मंगलवार को अभिभावक सुबह से घर से मतदान नहीं करने पर्चे लेकर निकल गए। एक दल सीधे कोरबा पहुंच गया। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी से मिलने भरसक प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। आखिर में पूर्व विधायक लखनलाल देवांगन ने अभिभावकों का समर्थन करते हुए ज्ञापन को पीएमओ पोस्ट कराया।


दूसरी ओर शहर में अभिभावक लगातार प्रचार प्रसार में जुट गए है। गली गली दुकान और ठेले खोमचे में जाकर जनता को वोट नहीं करने की अपील कर रहे है। एक ओर जिला प्रशासन मतदान को लेकर जागरूक कर रहा तो दूसरी ओर अभिभावक लोगों को मना कर रहे हैं। गौरतलब है कि एक दिन पहले भरी दोपहरी अभिभावक किचन व ऑफिस का कामकाज छोडक़र देवकीनंदन चौक पहुंच गए।


तपती धूप में खड़े होकर शिक्षा विभाग व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। निजी स्कूलों की फीस वृद्धि और वसूली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। अभिभावकों ने आठ सूत्रीय मांगों को लेकर पाम्पलेट जारी किया। रास्ते में आने जाने वाले सभी लोगों को रोककर इसे देते हुए प्रशासन की कमजोरी को उजगार किया।

This article was last modified on April 17, 2019 6:34 AM

This website uses cookies.