X
    Categories: दिल्ली

50 हेलीकॉप्टर और 25 जेट विमानों में उड़ रहे हैं नेता

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव का प्रचार चरम पर है। लोकसभा चुनाव के प्रचार में रोजाना लगभग 50 हेलीकॉप्टर और 25 जेट विमान नेताओं के लिए उड़ान भर रहे हैं। इनके किराए पर लगभग 4 करोड़ रूपया प्रतिदिन खर्च हो रहा हैं।
लोकसभा चुनाव में हेलीकॉप्टर और जेट विमान की मांग को पूरा करने के लिए एविएशन कंपनियों ने विदेशों से भी लीज पर हेलीकॉप्टर और जेट विमान मंगाए हैं।


रैलियों और सभाओं के लिए स्टार प्रचारक हेलीकॉप्टर और जेट विमान का उपयोग कर रहे हैं। राजनीतिक दलों ने चुनाव घोषित होने के 3 माह पहले से ही बुकिंग करा ली थी कुछ राजनीतिक दलों को तो विमान ही नहीं मिल पाए जिसके कारण उनका चुनाव प्रचार प्रभावित हुआ है।
देश में 51 चार्टेड कंपनियां पंजीयत हैं। इसमें कई ब्रोकर भी काम करते हैं। जो हेलीकॉप्टर और विमान उपलब्ध कराने का सौदा कराते हैं। उल्लेखनीय है भारत में 275 हेलीकॉप्टर और जेट एयरक्राफ्ट पंजीयत हैं।


लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए दुबई और सिंगापुर से हेलीकॉप्टर और जेट विमान मंगाए गए हैं। इन्हें उड़ाने वाले अधिकांश पायलट भारतीय हैं। सिंगल और डबल इंजन वाले हेलीकॉप्टर चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं। डबल इंजन वाले हेलीकॉप्टर और जेट एयरक्राफ्ट में दो पायलट साथ चलते हैं।
शाह और गांधी का चुनाव प्रचार जेट से


भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी चुनावी रैलियों और सभाओं के लिए दो एंजिन वाले हेलीकॉप्टर और जेट एयरक्राफ्ट का उपयोग करते हैं। सुरक्षा की दृष्टि और लंबी यात्रा को देखते हुए राहुल गांधी और अमित शाह दो एंजिन वाले विमान पर ही सफर करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए सेना के हेलीकॉप्टर उपलब्ध होते हैं।

This article was last modified on April 20, 2019 6:18 AM

This website uses cookies.