X
    Categories: दिल्ली

लोकसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज, 12 राज्यों की 95 सीटों पर वोट डाले जाएंगे।

97 नहीं सिर्फ 95 सीटों पर होगा मतदान, जानें वजह
नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए गुरुवार को 12 राज्यों की 95 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इसके साथ ही ओडिशा की 35 विधानसभा सीटों पर भी मतदान होगा। दूसरे चरण के मतदान में कई दिग्गजों की किस्मत ईवीएम में बंद हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि दूसरे चरण के लिए पहले 13 राज्यों की 97 सीटों पर वोटिंग होनी थी, लेकिन त्रिपुरा (पूर्व) लोकसभा क्षेत्र में खराब कानून व्यवस्था और तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट पर एक उम्मीदवार के कार्यालय में कैश बरामद होने के चलते चुनाव आयोग ने यहां चुनाव की तारीख टाल दी है। अब इन दोनों सीटों पर 23 अप्रैल को मतदान होगा।


दूसरे चरण में 97 लोकसभा सीटों पर चुनाव होना था, लेकिन गुरुवार को सिर्फ 95 सीटों पर मतदान होगा। इसमें से एक लोकसभा सीट तमिलनाडु की है और दूसरी लोकसभा सीट त्रिपुरा की है। तमिलनाडु की लोकसभा सीट पर चुनाव रद्द किया गया है, जबकि त्रिपुरा में चुनाव अब 18 की जगह 23 अप्रैल को होंगे। निर्वाचन आयोग ने तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट पर 18 अप्रैल होने वाला मतदान रद्द कर दिया है। यहां कुछ दिन पहले द्रमुक उम्मीदवार के कार्यालय से कथित रूप से मात्रा में नकदी बरामद हुई थी।
राष्ट्रपति ने चुनाव आयोग की ओर से सोमवार को की गई सिफारिश के आधार पर सीट पर चुनाव के लिए अधिसूचना रद्द कर दी। आयोग ने यह निर्णय आरोपी के आनंद के साथ ही पार्टी के दो पदाधिकारियों के खिलाफ आयकर विभाग की एक रिपोर्ट के आधार पर 10 अप्रैल को जिला पुलिस द्वारा एक शिकायत दर्ज करने के बाद लिया।


तीस मार्च को आयकर अधिकारियों ने आनंद के पिता डी मुरुगन के आवास पर चुनाव प्रचार में बेहिसाब धनराशि इस्तेमाल के संदेह में छापे मारे थे और 10.50 लाख कथित अतिरिक्त नकदी बरामद की थी। दो दिन बाद उन्होंने उसी जिले में द्रमुक नेता के एक सहयोगी के सीमेंट गोदाम से 11.53 करोड़ रुपए जब्त करने का दावा किया था। मुरुगन ने दावा किया था कि उन्होंने कुछ छुपाया नहीं है। निर्वाचन आयोग ने त्रिपुरा (पूर्व) लोकसभा क्षेत्र में खराब कानून व्यवस्था के कारण 18 अप्रैल को होने वाला मतदान मंगलवार को टालने की घोषणा की है। अब यहां 23 अप्रैल को चुनाव कराए जाएंगे। आयोग ने बताया कि वहां कानून व्यवस्था निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव कराने के अनुकूल नहीं है।

दूसरे चरण में दिग्गजों की साख दांव पर
दूसरे चरण में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली और राज बब्बर, नेशनल कान्फ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला, भाजपा नेता हेमा मालिनी, केंद्रीय मंत्री जुएल ओरांव, सदानंद गौडा और पी राधाकृष्णन के अलावा द्रमुक के दयानिधि मारन, ए राजा और कनिमोझी की किस्मत ईवीएम में बंद हो जाएगी।

15 राज्यों की इन 95 सीटों पर होंगे मतदान
उत्तर प्रदेश (8 सीटें)- नगीना, अमरोहा, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस, मथुरा, आगरा और फतेहपुर सीकरी
बिहार (5 सीटें) -किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका
पश्चिम बंगाल (3 सीटें)- जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग और रायगंज
महाराष्ट्र (10 सीटें)- बुलढाना, अकोला, अमरावती, हिंगोली, नांदेड़, परभणी, बीड, उस्मानाबाद, लातूर और सोलापुर
तमिलनाडु (39 सीटें) – तिरुवल्लूर, चेन्नई नॉर्थ, चेन्नई साउथ, चेन्नई सेंट्रल, श्रीपेरंबदुर, कांचीपुरम, अराकोनम, कृष्णागिरी, धर्मपुरी, तिरुवन्नामलाई, अरानी, विलुपुरम, कल्लाकुरिची, सलेम, नमक्कल, इरोड, तिरुप्पुर, नीलगिरी, कोयम्बटूर, पोलाची, डिंडीगुल, करुर, तिरुचिरापल्ली, पेरंबलूर, कुडालोर, चिदंबरम, मायिलादुथराई, नागापट्टनम, तंजावुर, शिवगंगा, मदुरई, थेनी, विरुधुनगर, रामनाथपुरम, थूथूकुडी, टेनकासी और कन्याकुमारी।


कर्नाटक (14 सीटें)- उदुपी-चिकमंगलूर, हासन, दक्षिण कन्नड़, चित्रदुर्ग, तुमकुर, मांड्या, मैसूर\, चामराजनगर, बेंगलुरु ग्रामीण, बेंगलुरु उत्तर, बेंगलुरु मध्य, बेंगलुरु दक्षिण, चिक्काबल्लापुर और कोलार।
ओडिशा (5 सीटें)- रगढ़, सुंदरगढ़, बलांगीर, कंधमाल और अस्का
असम (5 सीटें)- करीमगंज, सिलचर, मंगलदोई, ऑटोनॉमस डिस्ट्रिक्ट और नौगांव।
छत्तीसगढ़ (3 सीटें)- राजनंदगांव, महासमुंद और कांकेर।
जम्मू कश्मीर (2 सीटें) – श्रीनगर और उधमपुर।
मणिपुर (1 सीट) – आंतरिक मणिपुर
पुडुचेरी (1 सीट)- पुडुचेरी

This article was last modified on April 17, 2019 6:49 AM

This website uses cookies.